Loading...
Dr. Paul Dhinakaran

यीशु - जगत की ज्योति

Dr. Paul Dhinakaran
01 Dec
ऊपर चर्चित वचन में प्रेरित पौलुस किस दान की बात करता है?यीशु मसीह एक वरदान है और आपको और मुझ को यीशु मसीह के लिए परमेश्वर को धन्यवाद देने का एक बडा कारण है। यदि यीशु मसीह इस संसार में नहीं आता तो हम सभी को परमेश्वर के द्वारा दण्ड मिलता। यीशु हमारे पापों,श्रापो को लेने और हमें अनन्त जीवन देने आया। परमेश्वर एक स्वर्गीय प्रेमी परमेश्वर है और वह हम से प्रेम करता है, यूहन्ना 3:16 के अनुसार परमेश्वर ने जगत से ऐसा प्रेम रखा कि उसने अपना इकलौता पुत्र हमें दे दिया कि जो कोई उस पर विश्वास करें नाश न हो परन्तु अनन्त जीवन पाए।

यीशु इस संसार में एक ज्योति के रूप में आया और उस ने कहा, मैं इस जगत में  ज्योति होकर आया ताकि जो कोई मुझ पर विश्वास करे वह अंधकार में न रहे। (यूहन्ना 12:46) अंधकार पाप, बीमारी, बुरी आदत, शारीरिक इच्छा और दुष्टात्माका सताव की समरूपता है। परन्तु जो कोई मसीह पर विश्वास रखता है वो अंधकार के सभी प्रकारों से छुटकारा पाएगा। हम बाइबल में एक पिता के बारे में पढते हैं जिसके बेटे में दुष्टात्माएं थीं। वह यीशु के पास आया उससे कहा, हे प्रभु, मेरे पुत्र पर दया कर। उसे मिर्गी की बीमारी थी और वह बहुत ही दुखी था। वह अकसर पानी या बार बार आग में गिर जाता था। मैं उसको तेरे चेलों के पास लाया था, पर वे उसे अच्छा नहीं कर सके। (मत्ती 17:15-16) इसे सुनकर यीशु ने उस लडके को अपने पास बुलाया और दुष्टात्मा को डांटा और उसी घडी वह लडका चंगा हो गया।
जीवन का वचन

जब आप केवल यीशु पर विश्वास करते हैं, तभी वह आप और आपके परिवार और आपके प्रियजनों में अद्भुत चमत्कार करता है । इस संसार की परेशानियां और संघर्ष आपके जीवन में शक न लाए कि यीशु चंगा कर सकता है कि नहीं। यीशु को यह कहकर सवाल न करें,क्या तू मुझे चंगा करना चाहता है?क्या तू मुझे आशीष देना चाहता है? परमेश्वर के राज्य में यदि और लेकिन का नाम भी नहीं है। आपकी आशीष, चंगाई या आपके जीवन में चाहे किसी की भी जरूरत हो - केवल आपको विश्वास रखना है।जब आप यीशु पर भरोसा रखेंगे तो वह आप पर अपना प्रकाश चमकाएगा और आप कभी भी अंधकार में नहीं चलेंगे। इसलिए प्रभु के पास आएं और उसे खुद को पूरी तरह से सौंपें। वह आपको केवल चंगा ही नहीं करेगा बल्कि आपको बहुतायत मात्रा में आशीषित करेगा। परमेश्वर की दाख की बारी में आपने जो कुछ बोया है वह उसे सौगुणा आशीष देगापूरा नाप दबा दबा कर और हिला हिलाकर  और उभरता हुआ तुम्हारी गोद में डालेंगे (लूका 6:38) आज आप यीशु के पास आएं जो जगत की ज्योति है तो आप कभी भी अंधकार में नहीं चलेंगे।
Prayer:
प्रेमी पिता, मुझे एक नया मन दें कि मैं आपके बलिदानों पर भरोसा रखूं जो आपने मेरे लिए किए हैं। मैं आपके अनमोल और पवित्र लहू के लिए धन्यवाद देता/देती हूं जो मेरे सभी पापों से मुझे शुद्ध करता है। मैं अब कोई पाप और उसके मार्ग के बंधन में नहीं हूं क्योंकि मैं आपकी संतान हूं। हे प्रभु मुझ पर अनुग्रह करें कि मैं एक खरा जीवन व्यतीत करूं और आपकी ज्योति में चलूं। हे प्रभु, दूसरों के लिए प्रार्थना करने के लिए मुझे अनुग्रह दें जिससे कि आपकी ज्योति उन पर चमके और उन्हें उनकी सभी बीमारियों से चंगाई मिले। 

1800 425 7755 / 044-33 999 000