Loading...

परमेश्वर कभी नहीं बदलता!

Sharon Dhinakaran
17 Apr
ये प्रतिज्ञा का वचन जिब्राएल दूत से मरियम को पहुंचा, ‘‘क्योंकि जो वचन परमेश्वर की ओर से होता है वह प्रभावरहित नहीं होता।’’ (लूका 1:37) ये अब भी हमारे कानों में बज रहा है। मरियम को भविष्यद्वाणी भेजने के पहले जिब्राएल जकर्याह के पास यूहन्ना बपतिस्मा के जन्म की भविष्यद्वाणी करने के लिए भेजा गया। जब जकर्याह ने कहा कि यह कैसे होगा क्योंकि वह और उसके साथ साथ उसकी पत्नी बूढे हो गए हैं, स्वर्गदूत ने कहा, मैं जिब्राएल हूं, मैं परमेश्वर की उपस्थिति में रहता हूं और मैं तुझ से बातें करने और तुझे यह सुसमाचार सुनाने को भेजा गया हूं । तू उस दिन तक मौन रहेगा क्योंकि तू ने मेरी बातों को जो अपने समय पर पूरी होंगी, प्रतीति न की। (लूका 1:19,20) दूत के कहे अनुसार जकर्याह को सचमुच यूहन्ना पैदा हुआ। उसी तरह से प्रभु का वचन मरियम के पास भेजा गया और यीशु के जन्म की भविष्यद्वाणी की। जो वचन परमेश्वर की ओर से होता है वह प्रभावरहित नहीं होता। परमेश्वर के इस वचन को दूत ने मरियम को निश्चयता दी कि वो सच होगा। 

एक लडका जो स्कूल जाया करता था। जब कभी भी वह स्कूल से घर वापस लौटता था वह एक ट्रेफिक पुलिसवाले को देखता था जो अपने हाथों को ऊपर नीचे उठाया करता था। जब वह अपने हाथों को ऊपर उठाता था तो सब गाडियां रूक जाती थी। एक दिन जब ट्रेफिक पुलिसवाले ने अपने हाथ उठाए तो एक गाडी को छोडकर सभी गाडिां रूक गई। उस छोटे लडके ने देखा कि वह उसकी ओर दौडा और इसके बारे में पूछा। ट्रेफिक पुलिसवाले ने कहा कि, यदि वह उस गाडी को रोकता तो मुझे अपनी नौकरी खोनी पडती क्योंकि वह गाडी एक प्रतिष्ठित व्यक्ति की थी। उसी तरह से इस संसार में हम मनुष्यों को एक सीमा होती है परन्तु सर्वशक्तिमान को हमारी मदद के लिए कोई सीमा नहीं होती।
इस संसार में, हमारे कई रिश्ते होते हैं परन्तु बहुत बार वे प्रतिज्ञाओं को पूरा करने में असमर्थ होते हैं। परन्तु हमारा प्रभु हमें एक प्रतिज्ञा देता है और उसे पूरा भी करता है। इसहाक का पुत्र याकूब अपने भाई एसाव के डर से अपने देश से भाग गया। वह अपने मामा के घर में जाते समय प्रभु उस पर प्रगट हुआ और उसे प्रतिज्ञा की कि वह उसे आशीष देगा। याकूब अपने मामा के घर गया और वहां पर रहने लगा और शादी भी की। उस ने एक उन्नत जीवन बिताया जैसे कि प्रभु ने उससे कहा था। याकूब ने प्रभु पर भरोसा किया और 20 वर्ष तक उसके चरणों में बाट जोहता रहा। उसी तरह से जब हम प्रभु के चरणों में बाट जोहेंगे, वह निश्चय हमें चंगा करेगा और अपनी उपस्थिति से भरेगा और हमें आशीष देगा। वह एक सर्वशक्तिमान परमेश्वर है और हमारे प्रभु के लिए कोई भी काम असम्भव नहीं है। मनुष्य के परामर्श हमें केवल असफलता ही लाएंगे परन्तु जब प्रभु हमारे लिए कुछ करता है, वो बहुत सामर्थी और अद्भुत होता है। जब हम प्रभु पर भरोसा रखते हैं और उसके चरणों में बाट जोहते हैं, तो वह हमारे लिए निश्चय अपनी प्रतिज्ञाओं को पूरी करता है।
Prayer:
हे प्रभु, आप तो अद्भुत काम करनेवाले परमेश्वर हैं। हम आपकी महानता और वैभव की गहराई को कभी भी नहीं समझ सकते। हमारा सौभाग्य है कि आप हमारे प्रभु और उद्धारकर्त्ता है। हे प्रभु, आपसे सब कुछ सम्भव है और मैं अपनी कठिनाइयों और दुखों को आपके हाथों में देता/देती हूं। मैं विश्वास करता/करती हूं कि आप मेरी परिस्थितियों को बदल डालेंगे और मुझे आनन्द से भर देंगे। मैं अपने जीवन को आपके पराक‘मी हाथों में समर्पित करता/करती हूं। यीशु के नाम में आमीन!

1800 425 7755 / 044-33 999 000