Loading...
DGS Dhinakaran

निश्चित आशीषें!

Bro. D.G.S Dhinakaran
13 Feb
भारत को अंग्रेज राज्यों से आजादी पाने के बाद जब संविधान बन रही थी तब गांधीजी ने कहा, ‘‘तुम लोग कुछ भी संविधान में लिखो परन्तु मैं एक ही बात कहूंगा- मैं चाहता हूं कि हर भारतीय की आंखों से आंसुओं को पोंछ दिए जाएं।’’ यह तो गांधीजी का हृदय था! उसी तरह से हमारे सर्वशक्तिमान परमेश्वर जो हम से प्रेम करता है अपनी संतान के मुख से हर आंसू को पोंछना चाहता है। परमेश्वर का वचन मत्ती 7:9-11 में उसकी भलाई की निश्चयता के बारे में कहता है, ‘‘तुम में से ऐसा कौन मनुष्य है, कि यदि उसका पुत्र उससे रोटी मांगे तो वह उसे पत्थर दे? या मछली मांगे, तो उसे सांप दे? अत: जब तुम बुरे होकर अपने बच्चों को अच्छी वस्तुएं देना जानते हो, तो तुम्हारा स्वर्गीय पिता अपने मांगनेवालों को अच्छी वस्तुएं क्यों न देगा?’’ (मत्ती 7:9-11) 

स्वर्ग से भले पिता ने मानवजाति के लिए कौन सी अच्छी वस्तु अपने अद्भुत और विशाल प्रेम को प्रदर्शित करने के लिए भेजा? उस ने अपने इकलौते पुत्र यीशु इस संसार में देह के रूप में हमारे लिए मरने के लिए भेजा। यीशु इस संसार में मनुष्य के रूप में आया? एक प्रचारक ने उसका अर्थ इस तरह से समझाया, वह एक सडक पर चल रहा था जहां पर चिंटियों का एक झुण्ड एक पंक्ति में चलते हुए देखा। जब चिंटियों ने वक्ता के पैर को देखा तो उन्होंने सोचा कि वह उन्हें चोट पहुंचाएगा। उसके अच्छे शब्दों को कहने के बाद भी वे यहां वहां तितर बितर हो गई। उस समय प्रचारक ने यह जाना कि यदि मैं एक चींटी होता तो मैं अपने संदेश को आसानी से बांटता। 
प्रियजन, यीशु भी इस संसार में अपने शारीरिक देह में आया जिससे कि हम उसकी महिमा की एक अंश को देख सकें! हमें पापों, बीमारियों, शापों, निंदा से बचाने और आपके लिए हर आशीष को उसके असली आकार में लाना ही परमेश्वर के हृदय की धडकन है। रोमियों 8:32 कहता है ‘‘जिसने अपने निज पुत्र को भी न रख छोडा, परन्तु उसे हम सब के लिए दे दिया, वह उसके साथ हमें और सब कुछ क्यों न देगा? ’’ इसलिए आज आपकी क्या जरूरत है? उसके उपस्थिति मे सभी आशीषों को साहस से मांगे और धावा करें जो उसने आपके लिए रख छोडी हैं। आपको किसी भी अच्छी वस्तु की कमी न होगी क्योंकि परमेश्वर आपको असीमित और अकल्पनीय तरीके से आशीष देने की बाट जोह रहा है। इसके अलावा, आपके दुखों का अंत एक महिमामयी तरीके से होगा। आपके आंसू पोंछने का कोई भी कारण हो यीशु उन्हें पोंछ डालेगा।
Prayer:
प्रेमी पिता,

मैं विश्वास करता हूं कि आप एक भले पिता हैं जो केवल उत्तम चीज ही देते हैं। मैं आपके पुत्र यीशु के नाम में आपके सामने आता हूं। आप ने इस संसार में यीशु जो सब से उत्तम भेंट है मेरे लिए भेजा और इसलिए मैं जानता हूं कि आप मेरे जीवन के हर मामले में उत्तम करेंगे। हे प्रभु मैं अपनी सारी जरूरतों को आपके हाथों में समर्पित करता हूं अपने जीवन में आपके चमत्कारी कार्य का सामर्थ पाएं। मेरी मदद करें कि मैं आपके बडे प्रेम की गहराई का अनुभव कर सकूं। यीशु के नाम में, मैं प्रार्थना करता हूं,

आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000