Loading...
निश्‍चर उसके डरवैरों के उद्धार का समर निकट है।(भजन संहिता 85:9)
जो पाप से अज्ञात था, उसी को उसने हमारे लिरे पाप ठहरारा कि हम ..परमेश्‍वर की धार्मिकता बन जाएं।(2 कुरिन्थिरों 5:21)
तुम्हारा परमेश्‍वर रहोवा जो तुम्हारे आगे आगे चलता है वह आप तुम्हारी ओर से लडेगा।(व्रवस्थाविवरण 1:30)
जहां जहां दाऊद जाता था वहां वहां रहोवा उसको जरवंत करता था। (2 शमूएल 8:6)
मैं तुझ को अंधकार में छिपा हुआ और गुप्त स्थानों में गडा हुआ धन दूंगा। (रशाराह 45:3)
बुद्धिमान का मन उसके मुंह पर भी बुद्धिमानी प्रगट करता है और उसके वचन में विद्या रहती है। (नीतिवचन 16:23)
जब पवित्र आत्मा तुम पर आएगा तब तुम सामर्थ्र पाओगे।(प्रेरितों 1:8)
धन्र हो तू नगर में, धन्र हो तू खेत में।(व्रवस्थाविवरण 28:3)
परन्तु मैं उसी की ओर दृष्टि करूंगा जो दीन और खेदित मन का हो और मेरा वचन सुनकर थरथराता हो। (रशाराह 66:2)
परमेश्वर का उसके दान के लिए जो वर्णन से बाहर है, धन्यवाद हो।(2 कुरिन्थियों 9:15)
निश्‍चर धर्मी के लिरे फल है । (भजन संहिता 58:11)
प्रभु में सदा आनन्दित रहो; मैं फिर कहता हूं, आनन्दित रहो। (फिलिप्पिरों 4:4)
धर्मीजन उसका दर्शन पाएंगे। (भजन संहिता 11:7)
जो मनुष्र निरन्तर प्रभु का भर मानता रहता है वह धन्र है । (नीतिवचन 28:14)
इसलिए जो देश तेरा परमेश्‍वर रहोवा तुझे देता है उस में वह तुझे आशीष देगा। (व्रवस्थाविवरण 28:8)
क्रोंकि परमेश्‍वर अन्रारी नहीं, कि तुम्हारे काम, और उस प्रेम को भूल जाए। (इब‘निरों 6:10)