Loading...

प्रावधान का परमेश्वर!

Samuel Dhinakaran
15 Apr
यशायाह 58:11 के अनुसार परमेश्वर कहता है, ‘‘यहोवा तुझे लगातार लिए चलेगा, और अकाल के समय तुझे तृप्त और तेरी हड्डियों को हरी भरी करेगा; तू सींची हुई बारी और ऐसे सोते के समान होगा जिसका जल कभी नहीं सूखता।’’ इसलिए जब आप यीशु को अपने पूरे मन से उसे पाने की इच्छा रखते हैं तब वह अपनी प्रतिज्ञा के अनुसार आपको आशीष देगा। वह आपकी सभी जरूरतों और आपके हृदय की इच्छाओं को तृप्त करेगा। कुछ लोग परमेश्वर से इतना अधिक प्रेम करते हैं  जो इस संसार के किसी भी चीज से नहीं करते। हम चुनने का अधिकार है। मैं यीशु से बहुत प्रेम करता हूं इसलिए मैं आपके साथ इस संदेश को बांटना चाहता हूं। बाबिल कहती है कि प्रभु हमेशा हमारी अगुवाई करता है और अकाल के समय भी आपकी सभी जरूरतों को पूरा करेगा। यदि आप उन लोगों को देखेंगे जो यीशु से बहुत प्रेम करते हैं वे थोडे पागल से लगते हैं। यद्यपि उन्हें गाना और नृत्य करना नहीं आता फिर भी वे यीशु के लिए गाना और नृत्य करते हैं। इसलिए वे लोग जो यीशु से अधिक प्रेम करते हैं वे जोशीले होते हैं। इसके अलावा जो यीशु से प्रेम करते हैं वे धन सम्पत्ति या इस संसार की सुख सुविधाओं की खोज में नहीं रहते। 

बाइबल कहती है, जो शरीर को खुश करने के लिए बोता है तो शरीर उसे तबाही को काटेगी; जो आत्मा में बीज बोता है वह अनन्तजीवन को काटेगा। जब हम अपने शरीर की इच्छाओं को पूरी करने की कोशिश करते हैं तब हम उन इच्छाओं को पाते हैं और उससे भ्रष्टता ही निकलेगी। उदाहरण के तौर पर एक व्यक्ति को एक गदे से तेज दौडवाना है तो वह गदे के सामने एक लम्बी डोरी में गाजर को बांधकर लटका देता है। जब गदा उस गाजर को देखेगा तब वह उसका पीछा करेगा और वह उसे पकड नहीं पाएगा। जब गार को गदे से हटाया जाता है तो वह जानने लगता है कि वह कितना मूर्ख था। कभी कभी हम भी गदे के समान हो जाते हैं और उन लडकों और लडकिों के पीछे भागते रहते हैं जो हमारे जीवनों में मायने नहीं रखते। जब हम यह जान जाते हैं कि उनका पीछा नहीं किया जा सकता है तब हम उस गदे के समान अनुभव करने लगते हैं और खुद को मूर्ख बना देते हैं। शैतान हमारी आंखों के सामने उस गाजर के आकार में लोगों को अपनी ओर खिंचने की कोशिश करता रहता है। वह हम से खेल खेलता है कि हम मूर्ख बन जाएं। 
परन्तु यीशु हमें देखता है और कहता है कि इन चीजों के पीछे भागना व्यर्थ है। यीशु हमारे जीवनों की अगुवाई करना चाहता है क्योंकि शैतान ने हमारी आंखों को अंधा कर दिया है और वह हमें संसार की चीजों के पीछे भगाता है। यीशु कहता है, ‘‘मैं अकाल के समय भी तुझे तृप्त करूंगा।’’ जब आपके चारों ओर के लोगों से आप असंतुष्ट होते हैं तब यीशु आपको अपनी आशीषों के साथ भर देगा। बाइबल में हम राजा दाऊद को देखते हैं जो प्रभु से बहुत ही प्रेम रखता था। उस ने अपने जीवनभर में परमेश्वर पर भरोसा रखता था कि वह उसकी देखभाल करे। जब दाऊद ने एक वीर का सामना किया, उसने यहोवा के नाम से उसे नीचे गिरा दिया। जब भालू और शेर उसे जंगल में मारने गए तब जवान दाऊद लडा और प्रभु की सहायता के द्वारा उसे मार डाला। परमेश्वर दाऊद से बहुत प्रेम रखता था जैसे कि वह एक चरवाहे के रूप में था और उसे एक राजा बनाकर उसका सम्मान किया। परमेश्वर आप जवानों के जीवनों में भी ऐसा ही करना चाहता है। परमेश्वर कहता है हम उस पर भरोसा रखें तब वह हमारी मदद करेगा और हमें सफल करेगा और हमारे जीवनों में हमारा सम्मान करेगा। 
Prayer:
अनुग्रहकारी स्वर्गीय पिता परमेश्वर, इस दिन की प्रतिज्ञा के लिए मैं आपको धन्यवाद करता/करती हूं। केवल आप ही मुझे सींची हुई बारी और एक सोते के समान रखेंगे जिसका जल कभी नहीं सूखता। मैं आप पर भरोसा रखता/रखती हूं। हे प्रभु मेरी मदद करें कि मैं हमेशा आपको भाऊं और आपकी उपस्थिति में अपना समय बिताऊं। आप ऐसे प्रभु हैं जो मुझे अकाल के दिनों में भी तृप्त करेंगे क्योंकि आप ही तो युगानुयुग जीवित परमेश्वर हैं। मैं खुद को आपके हाथों में सौंपता/सौंपती हूं यीशु के नाम में, आमीन!

1800 425 7755 / 044-33 999 000